प्रतिमा प्रिया यूजी इंटर्न, स्‍कूल ऑफ मास कम्‍युनिकेशन रांची विश्‍वविद्यालय,रांची आज जब कई भारतीय राज्य भयावह गर्मी की स्थिति में त्राहिमाम त्राहिमाम कर रहे हैं , शुक्रवार 6 जून 2024 को झारखंड की राजधानी रांची, […]

बढ़ते प्रदूषण पर किसी का रोक नहीं , लोगों को अब धरती पर रहना हो रहा मुश्किल

खुशबू, पीजी इंटर्न स्‍कूल ऑफ मास कम्‍युनिकेशन रांची विश्‍वविद्यालय, रांची   पूरे देश दुनिया में प्रदूषण एक बड़ी समस्या बन के धीरे-धीरे सामने आ रहा है। इसके कई दुष्प्रभाव आज देश दुनिया के सामने है। […]

रांची के हरमू नदी में ऑक्सीजन नहीं

अभिषेक पीजी इंटर्न, स्कूल आफ मास कम्युनिकेशन रांची विश्वविद्यालय, रांची पर्यावरण के किसी भी मानक में झारखंड की स्थिति अच्छी नहीं है. यहां का आबोहवा बिगड़ रहा है. यह एक चिंता की बात है. राज्य […]

कोयले के जले राख मिट्टी को जहां ओबी पहाड़ी में डंप करने से फैला वायु प्रदूषण

संदीप नाग पीजी इंटर्न, स्कूल आफ मास कम्युनिकेशन रांची विश्वविद्यालय, रांची डकरा :खदान में इन दिनों जहां उत्खनन से निकले ओवर बर्डन कोयले के जले राख मिट्टी को जहां ओबी पहाड़ी में डंप किया जा […]

पर्यावरण संरक्षन के लिए एक और पहल, बिरसा चौक से धुर्वा गोलचक्कर तक तैयार हुआ साइकिल ट्रैक

संदीप नाग पीजी इंटर्न, स्कूल आफ मास कम्युनिकेशन रांची विश्वविद्यालय,रांची रांची में पर्यावरण संरक्षण के लिए एक और पहल की गई है। बिरसा चौक से धुर्वा गोलचक्कर तक स्मार्ट रोड तैयार है। 2.60 किलोमीटर का […]

धनबाद के झरिया क्षेत्र में कोयला खदान की आग: एक सतत आपदा

श्वेता कुमारी पीजी इंटर्न, स्कूल आफ मास कम्युनिकेशन रांची विश्वविद्यालय, रांची धनबाद के झरिया क्षेत्र में कोयला खदानों में लगी आग एक गंभीर और स्थायी समस्या है, जो पिछले सौ साल से भी अधिक समय […]

मौत का कुआं बना रहा रांची का ब्लू पौंड

तनय खंडेलवाल पीजी इंटर्न, स्कूल आफ मास कम्युनिकेशन रांची विश्वविद्यालय, रांची बीते कुछ सालों में राजधानी रांची में कई नए पर्यटन स्थलों की खोज हुई है जिनमें से एक बालासाइरिंग स्थित ब्लू पौंड भी है […]

पानी में जहर: आर्सेनिक संदूषण का खतरा साहिबगंज, झारखंड

विश्‍वजीत मरांडी पीजी इंटर्न, स्‍कूल आफ मास कम्‍युनिकेशन रांची विश्‍वविद्यालय, रांची भूजल दुनिया की लगभग आधी आबादी के लिए पेयजल का प्रमुख स्रोत है। ग्रह पर उपलब्ध 98% मीठे पानी का संसाधन भूजल के रूप […]

झारखंड में हो रहा पहाड़ों का खातमा

श्‍वेता पाठक स्‍कूल ऑफ मास कम्‍युनिकेशन रांची विश्‍वविद्यालय, रांची झारखंड, जो कभी अपनी प्राकृतिक सुंदरता और पहाड़ियों के लिए जाना जाता था, अब तेजी से अपने पहाड़ियों को खोता जा रहा है। विशेषज्ञों और पर्यावरणविदों […]